Parenting Mistake: Must Read Article For Parents In Hindi

Every parent wants to care their child but in some manner, parents did a mistake. In this particular article, we are going to reveal some common Parenting mistake that occurs while parenting. This article will teach you some lessons about positive parenting.

Common Parenting Mistake That Ruin Child Future-

कही आप भी तो नहीं कर रहे बच्चो को पालने में ये बड़ी गलतिया:

हर माता-पिता का सपना होता हे की उनका बच्चा बड़ा होकर अच्छा इन्सान बने इसीलिए वे बच्चो के पालन पोषण में कमी नहीं रखना चाहते | वो प्यार ही होता हे जिसके कारण बच्चो के प्रति माता पिता का रिश्ता अटूट ओर बेहद भावनात्मक होता हे |

कई बार बेहतर भविष्य की चाह के चलते माता पिता बहुत बड़ी गलतिया कर देते हे जिसका गहरा असर बच्चो के मानसिक समझ पर पड़ता हे | बच्चे हीन भावना से ग्रसित हो जाते हे ओर जीवन भर खुद को बेहतर बनाने में ही लगे रहते हे | खास बात ये हे की खुद के द्वारा बच्चो के पालन-पोषण में हुई इन भारी चुक का माता पिता को आभास भी नहीं होता हे |

माता-पिता से हुई कुछ गलतिया जिसे करने से बच्चे कभी भी सफल नहीं हो सकते हे :

  • कभी भी अपने बच्चो की दुसरे बच्चो से तुलना नहीं करे

कई माता पिता अपने बच्चो से हर बार जीत की ख्वाइश रखते हे ओर ऐसा न होने पर वे अपने बच्चो की तुलना उनसे बेहतर बच्चो से करने लगते हे | कई माता पिता इसे सामान्य समझते हे पर तुलना करने से बच्चो के मन में हीन भावना जन्म ले लेती हे ओर वे लोगो से नफ़रत करना शुरू कर लेते हे |

  • बच्चो को जीवन में क्या क्या नहीं करना हे ये बताने से अच्छा हे की, उनको ये सिखाया जाये की वो जीवन में क्या कर सकते हे

बच्चो का बेहतर पालन-पोषण हर माता पिता के लिए चुनोती होता हे शायद इसीलिए बच्चो को बार बार ये सिखाया जाता हे की उन्हें क्या क्या नहीं करना हे | ऐसा करने से वो अपनी खुद की पहचान ही भूल जाते हे ओर सिर्फ ओरो से बेहतर बनने लगते हे |

  • बच्चो को सहजता से सिखाये, उन पर नियम थोपे नहीं

बच्चो को बेहतर बनाने की होड़ के चलते हम उनके साथ सख्ती बरतना शुरू कर देते हे | कुछ हद तक ये सही हे पर कई बार कुछ माता-पिता बच्चो के साथ मारपीट भी कर लेते हे इसी कारण बच्चे अपने माता-पिता के सामने अपनी बात नहीं रख पाते हे ओर घुटन महसूस करते हे |

  • बच्चो की काल्पनिक बातो को हंसी में न ले

आप का नन्हा सा बच्चा रोज़ आप से कलक्टर बनने की जिद करता हे ओर हम उस बात को नादानी समझ कर हंसी में ले लेते हे | बच्चा मन ही मन ये मान लेता हे की कलेक्टर बनना उसके लिए असंभव हे | बड़े होकर वो हर किसी चीज को असंभव मानने लगता हे ओर उसे सफल होने में काफी वक्त लगता हे | बच्चो को समझाए की जीवन में लगन और मेहनत से कोई भी काम किया जाये तो कुछ भी असंभव नहीं हे |

कई बार हम बेहतर माता-पिता बनने के लिए सबकुछ करते हे पर ये जानना भूल जाते हे की क्या नहीं करना हे | इसलिए बच्चो को सीमायों में नहीं बांधे बल्कि उनके सोच को भरोसे के पंख देकर उन्हें उड़ने का स्वाद चखाये |

Hope you like it. Keep Commenting and Keep Shoping with Giftoo.